WPL 2024: जानिए कैसा रहा है RCB महिला टीम का WPL 2024 में क्वालीफ़ायर तक का सफर 

2 मार्च को मुंबई इंडियंस को 7 विकेट से हराने के बाद स्मृति मंधाना के रॉयल चैलेंजर बंगलौर ने WPL 2024 में क्वालीफाई कर लिया है। 15 मार्च को RCB की टीम मुंबई इंडियंस के साथ एलिमिनेटर मुकाबला खेलेगी। WPL 2023 में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद, WPL 2024 में RCB महिलावो ने अभी तक काफी शानदार खेल का प्रदर्शन किया है।

How RCB’s women team Qualify for WPL 2024

आज हम देखेंगे की किस प्रकार RCB ने अपने पहले मैच से क्वालीफ़ायर तक का सफर तय किया, किसने सबसे ज्यादा रन बनाये, किसने सबसे ज्यादा विकेट चटकाए, ऐसी सभी तमाम स्टैट्स आपको देखने को मिलेगी। 

# पहला मैच, 2 रनो से जीत 

RCB ने अपने WPL 2024 की शुरुआत 24 फरवरी को की थी, जहां उनका मुकाबला UP वारियर्स से हुआ था। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी RCB की टीम ने 6 विकेट खोकर 157 रन बनाये थे। जिसमे ऋचा घोष के 37 गेंदों में में 62 रनो की एक लाजवाब पारी शामिल है।

158 रनो के लक्ष्य का पीछा करने उतरी यूपी की टीम मात्र 2 रनो से चूक गयी। उसी मैच में RCB की स्पिनर आशा शोभना ने 4 ओवेर्स में 22 रन देकर 5 विकेट चटकाया था। पहले ही मुकाबले में RCB को जीत दिलाने वाली आशा WPL में 5 विकेट हॉल लेने वाली पहली भारतीय खिलाडी बनी थी। 

Asha Shobana 5 wicket haul vs UP warriorzs
Image Credit: Cricinfo.com

ये भी पढ़े: WPL: इस दिन आता है आपकी पसंदीदा RCB महिला खिलाड़ियों का जन्मदिन

# दूसरा मैच, 8 विकेट से जीत 

27 फरवरीको खेले अपने दूसरे मुकाबले में RCB ने गुजरात जाइंट्स के खिलाफ 8 विकेट से एक आसान जीत दर्ज किया था। पहले बल्लेबाजी करने उतरी GT को RCB के गेंदबाजों ने मात्र 107 रनो पर रोक दिया। जिसमे 4 ओवेर्स में 25 रन देकर 3 विकेट चटकाने वाली सोफी मोलिनुएक्स का सबसे बड़ा योगदान था। 108 रनो के लक्ष्य का पीछा करने उतरी RCB ने  कप्तान स्मृति मंधाना के 43 और सब्भिनेनी मेघना के नाबाद 36 रनो की मदद से ये मुकाबला 45 गेंद शेष रहते हुए आसानी से अपने नाम किया था।  

# तीसरा मैच, 25 रनो से हार  

लगातार शुरुआती 2 मैचों में जीत के बाद RCB को 29 फरवरी को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अपनी पहली झेलनी पड़ी थी। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की टीम ने RCB के सामने 194 रनो का एक पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा किया था।

195 रनो का पीछा करने उतरी RCB की टीम में कप्तान स्मृति मंधाना के अलावा कोई भी बड़ी पारी नहीं खेल पाया था, और RCB की टीम अपने 20 ओवेर्स 9 विकेट खोकर सिर्फ 169 रन ही बना पायी थी। इस मुकाबले में स्मृति मंधाना ने 43 गेंदों में 74 रनो की एक लाजवाब पारी खेली थी।

ये भी पढ़े: IPL 2024: किन दिग्गज बल्लेबाजों ने जड़ा है रॉयल चैलेंजर बंगलौर के खिलाफ शतक

# चौथा मैच, 7 विकेट से हार 

दिल्ली कैपिटल्स के बाद 9 मार्च को मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले में भी RCB को 7 विकेट से हार झेलनी पड़ी थी।पहले बल्लेबाजी करने उतरी RCB के टीम में एलिस पैरी के (44*) अलावा कोई भी बल्लेबाज विकेट पर टिक नहीं पाया था, और पूरी टीम ने अपने 20 ओवेर्स में मात्र 131 रन बना पायी। MI ने 29 गेंद शेष रहते ही ये मुकाबला 7 विकेट से जीता था।  

 # पांचवा मैच, 23 रनो से जीत 

लगातार 2 हार के बाद RCB ने एक बार फिर UP वार्रियर्स के खिलाफ 23 रनो से जीत दर्ज कर अपने सफर में आगे कदम बढ़ाया था। 4 मार्च को खेले गए इस मुकाबले में RCB ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान मंधाना के 80 और पैरी के 58 रनो की मदद से 198 रनो का विशाल स्कोर खड़ा किया था। यूपी को इस बड़े चेस में रोकते हुए सोफी डिवाइन, शोफी मोलिनेक्स, जॉर्जिया वरेहम और आशा सोभना ने दो- दो विकेट चटकाए थे।  

Smriti Mandhana batting
Image Credit: Cricinfo.com

# छठा मैच, 19 रनो से हार 

6 मार्च को खेले अपने छठे मुकाबले में RCB को गुजरात जाइंट्स से 19 रनो से हार मिली थी। पहले बल्लेबाजी करने उतरी GT ने RCB के सामने 199 रनो का एक पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा कर दिया था। 200 रनो के चेस में RCB के किसी भी बल्लेबाज को एक लम्बी पारी खेलनी चाहिए थी, लेकिन सभी ने एक अच्छी शुरुआत मिलने के बावजूद अपना विकेट गवाया था। RCB का कोई भी बल्लेबाज अर्धशतक भी नहीं बना पाया और टीम ने अपने 20 ओवेर्स में सिर्फ 180 रन बनाये थे।

# सांतवा मैच, 1 रन से हार 

10 मार्च को खेले  गए एक रोमांचक मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने RCB को एक रन से हरा दिया था। दिल्ली के 181 रनो के जवाब में RCB की ऋचा घोष (51 रन ) ने बेहतरीन बल्लेबाजी का प्रदर्शन दिखते हुए मैच को अपनी तरफ लेकर आ गयी थी, लेकिन अंतिम गेंद पर 2 रनो की जरुरत को वो पूरा न कर सकी।

# आंठवा मैच, 7 विकेट से जीत 

12 मार्च को मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेला गया मैच RCB के लिए अंतिम और महत्वपूर्ण लीग स्टेज का मुकाबला था। RCB ने इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करने आयी MI की टीम को मात्र 113 रनो पर सिमटा दिया। जिसका सबसे बड़ा श्रेय एलिस पैरी को जाता है, जिन्होंने 4 ओवेर्स में मात्र 15 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे।

एलिस पैरी का ये स्पेल WPL का सबसे बेस्ट बोलिंग फिगर भी है। 114 रनो का लक्ष्य चेस करने उतरी RCB ने भले ही अपने दोनों ओपनर्स को जल्द आउट होते देखा, लेकिन फिर एलिस पैरी ने दमदार बल्लेबाजी करते हुए, 30 गेंद शेष रहते ही RCB को 7 विकेट से मैच जीता दिया।  

Ellyse Perry Best Bowling Spell
Image Credit: Cricinfo.com

WPL 2024 में RCB खिलाड़ियों के आंकड़े

सबसे अधिक रनस्मृति मंधाना, 259 रन
सबसे अधिक विकेटआशा शोभना, 9 विकेट
सबसे अधिक छक्के स्मृति मंधाना, 10 छक्के
सबसे अधिक चौकेस्मृति मंधाना, 35 चौके
सबसे अधिक बॉउंड्रीस्मृति मंधाना, 45
सबसे बेस्ट पारी स्मृति मंधाना, 80 रन
सबसे बेस्ट इकॉनमीएलिस पैरी, 6.60
सबसे बेस्ट बॉलिंग फिगर एलिस पैरी, 6/15
सबसे अधिक बैटिंग स्ट्राइक रेटएकता बीस्ट, 240

   

  

1 thought on “WPL 2024: जानिए कैसा रहा है RCB महिला टीम का WPL 2024 में क्वालीफ़ायर तक का सफर ”

Leave a Comment